सुकन्या समृद्धि योजना से कीजिए बेटी का भविष्य सुरक्षित

Sukanya Samriddhi Yojana: आज भारत में लड़कियों का लिंगानुपात दिन प्रतिदिन गिरता ही जा रहा है। इसमें कोई शक नहीं कि भारत सरकार ने इस विषय की चिंता को समझते हुए कई कदम उठाए हैं, जिसमें कुछ हद तक वो गिरते लिंगानुपात को संभाल पाने में सफल हुए हैं। लेकिन अभी भी देश के कई ऐसे राज्य हैं जहाँ लड़कियों की जनसंख्या काफी कम है। लड़कियों की कमी होना भारत के लिए चिंता का विषय है।

ऐसे में सरकार ने अब कुछ ऐसी योजनाए चलाई हैं जिससे महिलाओं को शिक्षा, स्वास्थ्य और अन्य जरूरतों के लिए सरकार मदद करती है ताकि उनके मात-पिता अपनी लड़कियों को अपने ऊपर बोझ न समझ सके। भारत में सरकार ने महिला शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए एक योजना की शुरआत की है। 

केंद्र सरकार ने इस योजना को Sukanya Samriddhi Yojana नाम दिया है। इस योजना का उद्देश्य है देश की हर बेटी की पढ़ाई और उनकी शादी पर होने वाले खर्च पर अपना योगदान देना। जो लोग इस योजना के बारे में नहीं जानते उनके लिए हमारा यह लेख  बहुत ही महत्वपूर्ण और जानकारी देने वाला साबित हो सकता है। 

लड़की की पढ़ाई व शादी का जिम्मा केन्दीय सरकार उठाती है।

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत लड़की की पढ़ाई व शादी का जिम्मा केन्दीय सरकार उठाती है। केंद्र सरकार ने Sukanya Samriddhi Yojana की शुरुआत 22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ एक कम्पैन के साथ की थी। इस योजना के अंदर कोई भी व्यक्ति अपनी बेटी का डाक विभाग में ‘Sukanya Samriddhi Yojana’ का अकाउंट खुलवा सकता है।

इसके लिए सरकार ने अलग से सुविधा केंद्र भी खोले हैं जिसमें डाक विभाग से अकाउंट खुलवाने के लिए अलग काउंटर खोला गया है। इसमें आप 10 साल से कम उम्र की बच्ची का अकाउंट खुलवा सकते हैं। अकाउंट खुलवाने के लिए आपको सभी जरूरी डॉक्यूमेंट्स जमा करवाना अनिवार्य है।

ssy

आइए जानते हैं Sukanya Samriddhi Yojana का उद्देश्य:

मैं कितने पैसे जमा कर सकता हूं?

आपको यह खाता अपनी बेटी के नाम से खोलना होगा, जिसमें आप उसके नाम पर पैसा जमा कर सकते हैं। आप इस साल में आराम से 1 हजार से 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। यदि आप किसी भी कारण से भुगतान करने में असमर्थ हैं, तो आप 50 रुपये सालाना जुर्माना देकर पैसा जमा कर सकते हैं।

मैं कितने समय तक पैसा जमा कर सकता हूँ?

अपनी बेटी के खाते में खाता खोलने के बाद, आप अगले 14 वर्षों तक पैसा जमा कर सकेंगे।

मैं पैसा कब निकाल सकता हूँ?

इस योजना के कुछ नियम हैं कि आप केवल 18 वर्ष की आयु के बाद आधा पैसा प्राप्त कर सकते हैं ताकि बच्चा अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त कर सके। दूसरा नियम यह है कि अगर लड़की की शादी 18 से 21 साल के बीच है, तो भी आप पूरा पैसा निकाल सकते हैं।

खाता कब और कैसे बंद होगा?

यह खाता तब तक जारी रहेगा जब तक कि बेटी केवल 21 वर्ष की न हो जाए, उसके बाद खाता बंद कर दिया जाएगा। दूसरे मामले में, भले ही बेटी की शादी 18 से 21 साल में हो जाए, खाता बंद कर दिया जाएगा, जिसके माता-पिता को सारा पैसा मिल जाएगा।

ब्याज कितना मिलेगा?

इस योजना के तेह अभिभावक को 8.6 की दर से सालाना ब्याज मिलेगा। जिसका अर्थ है आपको 14 साल तक लगभग 1 लाख 68 हजार रूपए ही जमा करवाने हैं, उसके बाद आपको उसके खाते में 607128 रूपए मिलते हैं, यानी आपको 439128  रूपए ब्याज मिलता है, जो की समान्य से बेहद अधिक है।

कितने अकाउंट खोले जा सकते हैं? Sukanya Samriddhi Yojana के तरह आप केवल एक बच्ची का एक ही अकाउंट खोल सकते हैं। यदि आपके पास 3 बच्चियां हैं तो आप केवल 2 का ही अकाउंट खुलवा सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस के अलावा आप निजी और सरकारी बैंक में भी बेटी का खाता खुलवा सकते हैं। खाता खुलवाने के लिए 250 रुपए की राशि की आवश्यकता है उसके बाद आप 1000 रूपए महीने के हिसाब से खाते में पैसे जमा करवा सकते हैं। खाता खुलवाने के लिए आपके पास बच्ची का जन्म प्रमाणपत्र, एड्रेस प्रूफ और आईडी प्रुफ होना जरुरी हैं। आप चाहें तो फॉर्म को ऑनलाइन भी डाउनलोड करके जमा करवा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *