Kabir Singh Movie Review in Hindi: मोहब्बत और पागलपन की अनोखी दास्तान है; फिल्म Kabir Singh

Kabir Singh Movie Review in Hindi: कहते हैं प्यार जीवन की वो कड़ी है, जो दिलों को नहीं दो आत्माओं को एक आठ बाँध देती है। फिर उन दो आत्माओं को अलग कर पाना बेहद मुश्किल हो जाता है। इस प्रेम की राह बहुत कठिन है बंधू। जिसे अपना सच्चा प्यार मिल जाए उसकी नैय्या पार समझो। लेकिन वो कहते हैं ना, सच्चे प्यार मतलब केवल हासिल करना नहीं होता। इस प्रेम के चक्कर में खुद को बर्बाद करने का मजा क्या है, ये समझ नहीं पाए। हां शायद Shahid Kapoor की फिल्म Kabir Singh इस बात को थोड़ा विस्तार से समझा पाए।

कबीर सिंह तमिल की ब्लॉकबस्टर अर्जुन रेड्डी की रीमेक है। फिल्म की कहानी टेम्पर्ड डॉक्टर कबीर सिंह (Shahid Kapoor) की है, जो अपनी प्रेमिका न मिलने पर अपने आप को आत्म-विनाश की राह पर ले जाता है। यह फिल्म 21 जून यानी आज सिनेमाघरों में रिलीज हुई है।

Kabir Singh फिल्म की कहानी और समीक्षा जानने के लिए पढ़े।

Kabir Singh Movie की कहानी: चलिए मिलते हैं Kabir Singh  से, एक तरह का प्रेमी, जो आक्रामक, जुनूनी है और अपने प्यार को पाने के लिए किसी भी सीमा को लांघ सकता है। दिल्ली के सबसे प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान में पढता है और यह उसे एक लड़की प्रीति (Kiara Advani) जो उसकी जूनियर है, उससे पहली नजर में ही प्यार हो जाता है। अब वो पढ़ाई पर विशेष ध्यान दे रहा है और साथ में लोगों को धमकी भी कि प्रीति सिर्फ उसकी है और कोई भी उसकी तरफ देखेगा, तो वह उसे जान से भी मार देगा।

कबीर उसे डॉक्टर बनने में मदद करता है और खुद एक सर्जन बनता है। दोनों के बीच प्यार की कहानी चल रही है। लेकिन यह कहानी लम्बी नहीं चल पाती क्योंकि यहां इनके प्यार के सामने दीवार बन खड़े हुए हैं प्रीति के घरवाले, जबरदस्ती उसकी शादी किसी और से करवा देते हैं। क्योंकि कबीर का गुस्सा असहनीय है। फिर सफर शुरू होता है Kabir Singh के जूनून भरे पागलपन का, जो डिस्ट्रक्शन की वे सारी हदें पार कर जाता है, जिसके बारें में शायद ही कोई आम इंसान सोच सके। वो एक बहुत ही काबिल सर्जन है पर पूरी तरह से तबाह। क्या वो इस पागलपन से अपने आप को निकाल पाएगा, ये आपको कहानी देखकर ही पता लगेगा।

KABIR

Kabir Singh Movie Review in Hindi:

अगर बात की जाए Shahid Kapoor के किरदार कि तो एक बार फिर उन्होंने अपनी कमाल की एक्टिंग कला से साबित कर दिया है, वो एक बेहतरीन कलाकार हैं। वैसे देखा जाए तो सरफिरे के रोल में शाहिद काफी जंचे हैं। इतना सरफिरा आशिक शायद है बॉलीवुड की किसी फिल्म में देखने को मिले। इस से पहले भी फिल्म उड़ता पंजाब में उन्होंने मिलता जुलता रोल किया था। लेकिन इस फिल्म में उन्होंने वो कर दिखाया जो हर कोई नहीं कर पाता। दूसरी ओर Kiara Advani की उपस्तिथि कम ही रही है। लेकिन जितना रोल और जैसा रोल उन्हें मिला है, वो उस पर काफी खरा उतरी हैं।

बॉलीवुड में न जाने कितनी ही प्रेम कहानियां बनती है। कबीर सिंह भी एक प्रेम कहानी ही है। लेकिन जिस अंदाज में संदीप रेड्डी वांगा ने ‘कबीर सिंह’ को पेश किया है, वो बेहद अलग है। फिल्म की कहानी काफी दमदार है। संगीत की बात की जाए तो लोगों ने फिल्म के गीतों को पहले ही हिट करवा दिया है।

अगर आप लव स्टोरी के शौकीन हैं और कुछ हटकर देखना चाहते हैं, तो कबीर सिंह उन्हें जरूर पसंद आने वाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *