Nandi Hills: प्रकृति प्रेमी के लिए परफेक्ट डेस्टिनेशन

Nandi Hills को कुछ लोग नंदी बेट्टा के नाम से भी जानते है। यह दक्षिण भारत के कर्नाटका से 60 किलोमीटर दूर पहाड़ी पर बना एक प्राचीन किला है। इस किले महाराजा टीपू सुल्तान द्वारा चिक्कबल्लापुर जिले में बनाया गया था। यह कर्नाटक के सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक है। आस पास के लोग हमेशा एक अच्छी और बेहतरीन दिन गुजारने के लिए यहां के आस पास की जगहों पर घूमने आते हैं। क्योंकि यहां नंदी हिल्स के आस पास बहुत सी ऐसी जगह हैं, जहाँ आप एक अच्छा वीकेंड एन्जॉय कर सकते हैं। यहां बहुत सारे शाही किले हैं, प्राचीन मंदिर हैं के अलावा कई आकर्षण हैं।

Nandi Hills से आप सूर्योदय के नज़ारे का आनंद उठा सकते हैं। प्रकृति प्रेमी और फोटोग्राफी के शौकीन लोगों के लिए ये जगह किसी जन्नत से कम नहीं है। नंदी हिल्स में घूमने वाली सभी स्थान ज्यादा दूर नहीं है। आप ये सभी जगह 1 या 2 दिन में आराम से घूम सकते हैं। यहां की जलवायु बहुत अच्छी है आप वर्ष में किसी भी समय यहां आने की योजना बना सकते हैं। बस मानसून के मौसम में यहां न आए, अधिक बारिश में यहां घूमने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है।

भोग नन्देशेश्वर मंदिर (Bhoga Nandeeshwara Temple

कर्नाटका एक ऐसा राज्य हैं जहाँ बहुत से शाही विरासत वाले प्राचीन मंदिर बने हुए हैं। कोई भी इतिहासकारों इन मंदिरों को देखकर मंत्रमुग्ध हो जाता है। यहां एक भृत्य ही प्राचीन मंदिर बना हुआ है जिसका नाम है तेजस्वी भोग नंदीश्वर मंदिर। नंदी पहाड़ियों पर स्तिथ यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर की देखरेख का जिम्मा एएसआई के पास है। इसमें 3 बड़े मंदिर हैं और उनके अंदर बहुत बड़ी और विशाल कलाकृतियां और मूर्तियां हैं जो विभिन्न वास्तुशिल्प शैलियों का मिश्रण का उदाहरण पेश करती हैं। इसके अलावा इसमें चोल सम्राज्य के सम्राट राजेंद्र की भी  मूर्ति है। मंदिर में शादियों का आयोजन भी किया जाता है।

Bhoga-Nandeeshwara-Temple

टीपू सुल्तान का किला (Tipu Sultan’s Fort)

टीपू सुल्तान को दक्षिणी भारत के सबसे शक्तिशाली योद्धा कहा जाता है। वो न केवल  एक पराक्रमी शासक थे बल्कि एक बहादुर स्वतंत्रता सेनानी भी थे। उन्होंने अपनी मातृभूमि की संप्रभुता की रक्षा के लिए ब्रिटिश आक्रमणकारियों के खिलाफ बहादुरी से लड़ाई लड़ी। उनके लिए एक किले का निर्माण हुआ जिसका नाम है ताशक-ए-जन्नत। इस किले का निर्माण उनके पिता हैदर अली ने किया लेकिन इस किले को पूरा टीपू सुलतान ने करवाया। यह किला वास्तुकला एक अच्छा उदाहरण है जो प्राचीन शैली को दर्शाती हैं। इस मंदिर के आस पास ट्रेकिंग मार्ग भी हैं जहाँ आप आसानी से ट्रकिंग जैसी गतिविधि का आनंद ले सकते हैं।

Tipu-Sultan's-Fort

अमृत ​​सरोवर (Amruth Sarovar)

Nandi Hills के पास में एक अद्भुत स्थान हैं जिसे अमृता या अमृथ सरोवर कहा जाता है। कुछ लोग इसे अमृत ​​की झील भी कहते हैं। इस झील के निर्मल जल निकाय से पूरे क्षेत्र में पानी की आपूर्ति की जाती है। रात की चांदनी में झील का नजारा बहुत ही अद्भुत होता है क्योंकि रात में यह झील चमकती है। इस जगह पर आप एक बहुत ही खामोशी और शांति का अनुभव करेंगें।

Amruth-Sarovar

स्कंदगिरी, चिकबल्लापुर (Skandagiri, Chikkaballapur)

स्कंदगिरि पहाड़ियों जिसे कलावरा दुर्गा भी कहा जाता है आपको यहां आने के बाद उन्हें जरूर देखना चाहिए। जो लोग ट्रेकिंग के अलावा रोमांच पसंद करते हैं, उन्हें यहां जरूर आना चाहिए। इसकी छोटी लगभग 1450 मीटर ऊँची है। आप यहां सर्दियों के मौसम में, ट्रेकिंग का अनुभव लेना बहुत ही रोमांचित करने वाला है।

Skandagiri,-Chikkaballapur

ब्रह्माश्रम (Brahmashram)

वैसे तो Nandi Hills पहाड़ी इलाकों के लिए काफी लोकप्रिय है। पहाड़ों में बहुत सी गुफाएं भी हैं जो आध्यात्मिक लोगों के रहने के स्थान हैं। यहां एक बहुत ही प्रसिद्ध   ब्रह्माश्रम गुफा हैं, इस गुफा में साल भर आध्यात्मिक रूप से आने वाले दर्शनार्थियों आते रहते हैं। यह गुफा बहुत प्राकतिक रूप से सुसस्ज्जित की गई है। इसके चारों तरह हरियाली है, जो आपको शांत अनुभव प्रदान करती हैं। ऐसा कहा जाता है कि प्रख्यात संत रामकृष्ण परमहंस ने इस गुफा में कुछ समय बिताया था और उन्होंने गुफा में ध्यान लगाकर आध्यात्मिक खोज की थी।

Brahmashram

इसके अलावा, Nandi Hills में योग नंदेश्वरा मंदिर, ग्रोवर ज़म्पा वाइनयार्ड, मुडेनाहल्ली संग्रहालय और नेहरू निलय जैसे कई स्थानों की यात्रा की जा सकती है, जो प्रकृति प्रेमियों को पसंद आ सकती हैं।

One thought on “Nandi Hills: प्रकृति प्रेमी के लिए परफेक्ट डेस्टिनेशन

  • September 13, 2019 at 7:06 am
    Permalink

    Hello,
    I m Really looking forward to read more. Your site is very helpful for us .. This is one of the awesome post i got the best information through your site and Visit also this site
    https://www.webcastory.biz
    Really many thanks

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *