Men In Black: International Movie Review in Hindi – नए चरित्र के साथ पुरानी कहानी की अगली पेशकश है Men In Black: International

Men In Black: International Movie Review in Hindi – हॉलीवुड की फिल्मों को भारतीय भाषा में एक अलग पहचान मिली है। हमेशा कुछ अलग कहानी देखने के लिए लोग उत्साहित रहते हैं। SiFi Movies का जादू  वैसे ही लोगो में क्रेज पैदा कर देता है। Guardians of the Galaxy, Star Wars और Men In Black जैसी फ़िल्में देखने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इस शुक्रवार को SiFi Movies की एक और फिल्म में इन ब्लैक रिलीज हुई है। नवीनतम तकनीक के साथ बनी फिल्म Men In Black: International फिल्म Men In Black श्रंखला की कड़ी का अगला भाग है।

एलियन्स जाति का अंतिम जीवित सदस्य जो पृथ्वी पर छिपकर रह रहे हैं। जो एक मारकेश प्राचीन वस्तुओं की दुकान में, विशेष रूप से, शतरंज के टुकड़ों की आड़ में छुपे हुए हैं। यह एक तरह की बड़ी (अच्छी तरह से, वास्तव में बड़ी नहीं) मशीन में एक गुमनाम दलदल है। Pawny जो पुरानी फिल्म में मुख्य किरदार का हिस्सा रहा है, उसके पास नाम नहीं हैं, एजेंट्स M और H (Chris Hemsworth And Tessa Thompson) को बताता है, कि वह ब्लैक पोल एजेंसी (वैश्विक पुलिस बल) में काम करता है जो बाहरी दुनिया यानी की अंतरिक्ष से आए जीवों पर निगरानी और रखरखाव करता है।

Pawny,” पर फोन करके फैसला लेने के लिए कहता है कि अगर वो इस फ़ोर्स में शामिल होते हैं तो वो उनका आभारी रहेगा। Pawny उन पर कड़ी निगरानी किए हुए है और उन्हें बताता है कि पहला विनाशकारी हथियार को दुष्ट एलियंस के हाथों से बाहर रखना है और विश्व को बचाना है। दूसरा Men in Black संगठन के अंदर एक संभावित खतरनाक चीजों की पहचान करनी है और दूसरे ग्रह के जीवों जो इंसान के रूप में रह थे हैं उनकी जोड़ी में हत्या करनी है, साथ ही  उनके कब्जे में आने और मरने से बचना है।

man in black trailer

फिल्म में ऐसा कुछ भी नया नही है, जो आपको देखने को मिले। कहानी वही है, जो में की पहली कड़ियों में आपने देखी है। हमेशा की तरह, फिल्म को एलियंस के एक विचित्र ब्रह्मांड से आबाद किया गया है। उसमें 2 एजेंट आपको J और K से थोड़े अलग दिखाई देंगें। उनके काम की अपेक्षा आपको थोड़ी सी निराशा हाथ लगेगी। कुछ प्रशंसकों के लिए, जो एलियंस की दुनिया उनसे को लड़ते देखना पसंद कर पाए तो उनके लिए 2 घंटे की यह फिल्म पर्याप्त है। दूसरों के लिए, इस फिल्म पर विचार अलग हो सकता है कि, पहली फिल्म के 22 साल बाद, आप Men in Black में कहानी को वहीं के वहीं पाओगे। इतने लंबे समय के बाद भी उन्हें चीजें उसी तरह से मिल रही हैं। इस बात को जानकार शायद दर्शकों को Men in Black: International पसंद न आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *