Hair Smoothening करवाने से पहले जान लें, ये जरूरी बातें

हर किसी लड़की का सपना होता है कि उसके बाल घने, लंबे, काले और सीधे हों। लंबे लहराते बाल हर किसी को पसंद होते हैं। बालों की सुंदरता आपके व्यक्तित्व को निखारती है। बहुत सी लड़कियां अपने बालों की देखभाल पर बहुत अधिक ध्यान देती हैं। लेकिन कुछ फैशन के दौर में ट्रेंडी दिखने के लिए अपने बालों के साथ नए नए प्रयोग करती रहती है। कभी hair color, hair straightening और highlights लेकिन कुछ समय से लड़कियों में Hair Smoothening का क्रेज़ बढ़ता जा रहा है।

Hair Smoothening एक तरह का कैरोटीन और प्रोटीन ट्रीटमेंट है, जिसमें बहुत सारे केमिकल का इस्तेमाल करके आपके बालों को सीधा किया जाता है। ज्यादतर घुंगराले बालों वाली लड़कियां इसे करवाना पसंद करती हैं। लेकिन अब एक लड़की अपने बालों को सुंदर बनाने के लिए इसे करवाने लगी हैं।

यह प्रक्रिया 3 चरणों में की जाती है। पहले चरण में आपके बालों को सीधा करने के लिए आपके बालों को अच्छे से शैम्पू करके  धोया जाता है। उसके बाद आपके बालों पर स्मूथिंग क्रीम वाले प्रोडक्ट्स इस्तेमाल किए जाते हैं। तीसरे चरण में एक हेयर स्त्रीगहतनिंग करके बालों को सीधा करके और ब्लो ड्रायर किया जाता है।

हालांकि इस प्रक्रिया के बाद आपके बाल बेहद ही सुंदर लगने लगते हैं, लेकिन इस के बाद आपके बालों पर बहुत ही हानिकारक प्रभाव भी पड़ता है। इसलिए किसी भी पार्लर में जाने से पहले आपको इन बातों को जान लेना चाहिए ताकि आप अपने बालों को होने वाले नुक्सान से बचा सकें।

हेयर फॉल की समस्या

बालों का गिरना एक लड़की के लिए बहुत ही खतरनाक स्तिथि है। घने बालों का पतला होना या गिरना किस लड़की को पसंद होगा। यह आपकी सुंदरता को प्रभावित करता है। कम उम्र में बालों का गिरना एक समस्या है और इससे हमारे स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ता है। जब हम अपने बालों में हानिकारक रसायनों का उपयोग करते हैं तो उनकी जड़ें कमजोर होने लगती हैं। कमजोर होने पर बाल झड़ने लगे है और आपको कुछ समय में गंजेपन की समस्या भी आ सकती है।

Hair-fall-problem

त्वचा पर चकत्ते पड़ना

बालों को smoothening ट्रीटमेंट करवाने में बहुत सी समस्याएं आने लगती है। अधिक केमिकल के इस्तेमाल से हमारी त्वचा पर प्रभाव पड़ने लगता है। इससे आंखों के आस-पास के क्षेत्र में जलन और खुजली हो सकती है या फिर आपकी बालों के आस पास की त्वचा पर चकते पड़ जाते हैं। बालों को smoothening ट्रीटमेंट करवाने में बहुत सी समस्याएं आने लगती है। अधिक केमिकल के इस्तेमाल से हमारी त्वचा पर प्रभाव पड़ने लगता है। इससे आंखों के आस-पास के क्षेत्र में जलन और खुजली हो सकती है या फिर आपकी बालों के आस पास की त्वचा पर चकते पड़ जाते हैं।

प्राकृतिक बनावट खो देना

जो बालों पर अत्यधिक केमिकल का इस्तेमाल होता है, तो कुछ दिनों में बाल अपनी प्राकृतिक बनावट खो देते हैं। Smoothening cream में मिले अमीनो एसिड और डाइसल्फ़ाइड आपके बालों को एक नई संरचना देते हैं और कुछ नकली से दिखने लगते हैं।

Lose-the-natural-texture

दो मुंहे बाल

जब आप समय समय पर अपने बालों के साथ प्रयोग करती हैं तो आपके बाल बेजान होने लगते हैं। दोमुंहें बाल, बालों की ग्रोथ को रोक देते हैं। क्रीम में इस्तेमाल होने वाले रासायनिक आपकी बालों की नमी को खत्म करके उसे शुष्क बना देते है, जिससे दोमुहें बाल बनने लगते हैं।

Split-hair

रूसी (डैंड्रफ)

इसमें आपके बालों में सफेद पपड़ी जम जाती है और उसमें खुजली महसूस होने लगती है। जब आप खुजली करते हैं, तो पपड़ी झड़ने लगती है। डैंड्रफ होना एक बहुत बड़ी समस्या है, आपके बालों में डैंड्रफ होना लोगों के सामने शर्म महसूस करने जैसा अनुभव देता है।

dandruff

चिपचिपे बाल

बालों को सीधा करते समय बहुत ज्यादा मात्रा में हेयर लोशन और सीरम का इस्तेमाल होता है, जिससे आपके बालों में शुरू में बहुत चिकनाहट आ जाती है। हालंकि आपको इन्हें इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है लकिन किसी चीज की अधिक मात्रा भी नुकसानदेह साबित होती है। भले ही सीरम के इस्तेमाल से आपके बाल सीधे हो जाते हैं। लेकिन बालों को धोने के 2 या 3 दिन बाद ही उनमें चिपचिपाहट आ जाती है और वो बदबूदार हो जाते हैं।

Sticky-hair

सफ़ेद बाल आना

जब केमिकल का इस्तेमाल अधिक होता है, तो बाल कुछ ही समय में सफ़ेद होने लगते हैं। पहले कुछ ही बाल सफेद होते हैं और धीरे-धीरे लगभग सभी बालों की जड़ें सफ़ेद हो जाती है। जिससे आपको बार बार बालों में कलर करवाने की जरुरत महसूस होती है, जो और भी समस्या का कारण बन सकती है जैसे – सरदर्द, आँखों का कमजोर होना या फिर एलर्जी।

Gray-hair

हमें पता है, जब आप Hair Smoothening करवाते हैं, तो आपके बाल काफी अच्छे और स्टाइलिस्ट दिखाई देते हैं। लेकिन यह ख़ुशी आपको कुछ महीनों तक ही मिल पाती है। साल भर बाद आपको बालों में तरह तरह की समस्याएं नजर आने लगती है। इसलिए हमारी सलाह है कि आप घेरलू तरीकों से ही अपने बालों की देखभाल करें और प्राकृतिक तरीकों से ही इन्हें सुंदर बनाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *