Udyog Aadhar जानकारी और लाभ हिंदी में जाने

Udyog Aadhar: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक डिजिटल भारत का सपना देखा था और वो देश का विकास के लिए हर संभव प्रयास में जुटे हैं। उनका मकसद ही है देश के हर नागरिक चाहे वो आमिर हो या गरीब सभी का विकास हो, उन्हें नई सुविधाएं प्रदान करवाना। इसलिए उन्होंने Pradhan Mantri Mudra Yojana, Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana जैसी योजनाओं की शुरुआत की है। इन सभी योजनाओं का उद्देश्य यही है की देश के प्रत्येक नागरिक को फायदा पहुंच सके। प्रधान मंत्री ने उसके लिए एक नारा भी दिया था सबका साथ, सबका विकास। जिस पर वो पूरी तरह से कार्य कर रहे हैं। देश के विकास के लिए कम आय वाले लोगों के लिए ही नहीं बल्कि व्यपारी वर्ग के लिए भी योजना की शुरुआत की है। इस योजना का नाम है Udyog Aadhar जिसकी शुरुआत प्रधानमंत्री ने 18 सितंबर 2015 को की थी।

Udyog Aadhar क्या है?

आसान शब्दों में कहें तो यह एक तरह का सरकारी पंजीकरण है। जिसमें जो भी व्यक्ति छोटा या माध्यम व्यवसाए शुरू करना चाहता है यह सरकारी पंजीकरण उसे मान्यता प्रमाण पत्र के साथ प्रदान किया जाता है। इसमें आपको 12 अंको की यूनिक नंबर दिया जाता है जिसे उद्योग आधार नंबर भी कहते हैं। इसे व्यापार का रजिस्ट्रेशन नंबर भी कह सकते हैं।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन क्यों जरुरी है ?

किसी भी व्यापार को शुरू करने से पहले उसका रजिस्ट्रेशन करवाना बेहद जरुरी है। रजिस्ट्रेशन से आपके व्यापार पहचान मिलती है, उसे नाम मिलता है। इसके अलावा आपको व्यापार से जुड़े सारे लाभ मिलने की संभावनाएं भी बढ़ जाती हैं। अगर आप अपने व्यवसाय को रजिस्ट्रेशन करवाते हैं तो आप टेक्नोलोजी और क्वालिटी अपग्रेड सपोर्ट पाने के लिए सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता योजनाओं का लाभ भी उठा सकते हैं। सरकार ब्याज सब्सिडी पात्रता प्रमाण पत्र, प्रदर्शन और क्रेडिट रेटिंग योजना और एमएसएमई की सुविधा के लिए इस तरह की योजनाओं से मदद कर सकती है

Udyog-Aadhar-reg.


Yojana का उद्देश्य क्या है? (Udyog Aadhar)

हमारा मुख्य उद्देश्य है किसी भी लघु और मध्यम तरह के व्यापार को शुरु करने वाले व्यक्ति को लाभ पहुंचना। जिसमें किसी व्यक्ति को अपने व्यापार शुरू करने के लिए एक रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया से होकर गुजरना पड़ता है। पहले यह प्रक्रिया बहुत ही मुश्किल थी। इसलिए इसे आसान बनाना ही इस योजना का उद्देश्य है।

जब आप को नया काम या बिजनेस शुरू करते हैं। इसलिए वो उसे लीगल तरिके से चलाना चाहते हैं ताकि मार्किट में उन्हें एक  अच्छा नाम मिले। कोई भी उनकी कंपनी को फ्रॉड ना कह सके। भारत सरकार की इस उद्योग आधार योजना का मकसद आपकी कंपनी को आसानी से रजिस्टर करवा कर के सरकार द्वारा प्रमाण पत्र पाने की सुविधा को आसान बनाना हैं।

इससे मिलने वाले लाभ !

यह योजना से छोटे और मध्यम आकार वाले व्यपारी को बहुत से लाभ मिल सकते हैं। इस योजना के तहत आपको पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) करवाने की सभी औपचारिकताएं आसानी से ऑनलाइन पूरी की जा सकती हैं। इसके अलावा जरुरी नहीं कि आप रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन ही करवा सकते हैं आप चाहें तो  ऑफलाइन भी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि इसमें आप फॉर्म को अपने तरीके और हिसाब से भी भर सकते हैं।

अगर आप ऑनलाइन फॉर्म भरते हैं तो आपको रजिस्ट्रेशन के बाद एक12 अंकों की संख्या प्राप्त होती है, वहीं आपके बिज़नेस का सजिस्ट्रशन नंबर होता है। इसका सबसे बड़ा लाभ हाल ही में शुरू हुआ कोई काम या स्टार्टअप वाले व्यक्तियों को अधिक पहुंचता है क्योकि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया के लिए कोई भी फीस नहीं देनी पड़ती। जिसका अर्थ यह है कि यह प्रक्रिया आसान होने के अलावा फ्री भी है।

रजिस्ट्रेशन कैसे करवाएं?

सरकार द्वारा इस योजना को लोगों के लाभ के उद्देश्य से शुरू किया गया है। Udyog Aadhar के रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आप http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UAM_Registration.aspx  पर जाएं। यह पंजीकरण का पहला कदम है, इसमें आपको अपनी सभी व्यक्तिगत जानकारी को भरना होगा। इसके बाद आपको अपने व्यवसाय से जुड़े सभी विवरण और पत्राचार भी भरें। उसके बाद आपको बैंक डिटेल भी भरनी होगी और व्यापार का विवरण भी देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *