Ashwagandha: डिप्रेशन में चमत्कारी जड़ी बूटी से कम नहीं है

Ashwagandha: “यदि आप तनाव महसूस कर रहे हैं,  जो आजकल के युवा अकसर कम उम्र में फील करने लगते हैं। हमारी जीवनशैली ही कुछ इस प्रकार की है कि अक्सर बच्चे छोटी छोटी बातों को लेकर चिंता करने लगते हैं। जिस कारण से वो बहुत जल्द तनाव से ग्रस्त हो जाते हैं। आज हम आपको एक ऐसी औषधि बता रहे हैं, जिसका सेवन करना इस तरह की समस्याओं से निपटने और अन्य कई प्रकार की बिमारियों से लड़ने के में कारगार साबित हो सकता है।

लंबे समय से सामाजिक चिंता के लिए एक हर्बल एंटीडोट के रूप में प्रशासित, ashwagandha का उपयोग पिछले 6,000 वर्षों से भारतीय पारंपरिक चिकित्सा में किया जाता है। अश्वगंधा के गुणों के बारें में अगर कहा जाए तो शब्द कम पड़ जाते हैं। क्योंकि इससे न जाने कितनी ही बीमारियों को इलाज भारतीय आयुर्वेद ने निकाला है।

ashwagandha के फायदे

अकसर इस हर्बल को विभिन्न बिमारियों जैसे गठिया, चिंता, बायपोलर विकार, सोने में परेशानी के अलावा शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है। यही कारण है कि ashwagandha हर्बल जड़ी बूटी विज्ञान की और ध्यान आकर्षित कर रही है। वैज्ञानिक आधार पर बात करें तो यह एक प्रकार का एडेप्टोजेन है, जो नॉनटॉक्सिक पौधों का एक और बज़ी वेलनेस श्रेणी है, जिसका कार्य शरीर में शारीरिक और भावनात्मक दोनों तनावों का मुकाबला करना होता है।

TREE

वैज्ञानिकों ने इस बारें में बहुत सी शोध की हैं, जिसमें उनका मानना है कि तनाव और चिंता से निपटने के लिए ashwagandha तेजी से कार्य करने में सक्षम हैं। हालंकि इस बात की पूर्णत सच्चाई के समर्थन करने के लिए बहुत सारे शोध उपलब्ध नहीं हैं। “किसी भी पौधे की तरह, शरीर में इसके प्रभाव इस बात पर निर्भर करते हैं कि इसमें मौजूद रसायन क्या करते हैं, उनमें से कितने हैं, वे शरीर में कितने अच्छे हैं, और वे कहाँ जाते हैं।

Ashwagandha एक सहज दिखने वाला पौधा है, और इसके औषधीय गुण इसकी जड़ और इस पौधे की बेरी में पाए जाते हैं। इस पौधे में एंटीऑक्सिडेंट, लोहा, और एमिनो एसिड की प्रचुरता मात्रा पाई जाती है, और यही कारण है कि इस पौधे में इतने गुण मिलते हैं। एक सामान्य श्रेणी के रूप में, एडाप्टोजेंस को शरीर के तनाव की प्रतिक्रिया को नियंत्रित करने में मदद करने के लिए एक भूमिका निभाने के लिए माना जाता है। विशेष रूप से, अश्वगंधा जैसे अनुकूलन हार्मोन को संतुलित करने में मदद कर सकते हैं।

आज के युग में आप दिन प्रतिदिन देख ही रहे हैं कि किस तरह से आज का युवा डिप्रेसन से झूझ रहा है और चिंता की तरह गंभीर चिकित्सा मुद्दों के लिए Ashwagandha उनके लिए मददगार सिद्ध हो सकता है।

One thought on “Ashwagandha: डिप्रेशन में चमत्कारी जड़ी बूटी से कम नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *